राजस्थान: सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड में बड़ी सफलता, साजिशकर्ता गिरफ्तार; जानिए उनकी कहानी और भूमिका

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड में पुलिस ने एक अहम साजिशकर्ता रामवीर को गिरफ्तार किया है। शूटर नितिन फौजी और रामवीर बचपन के दोस्त भी हैं और रामवीर ने नितिन और रोहित के लिए जयपुर में व्यवस्थाएं करवाई थीं।(सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड)

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड

जयपुर: श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है और हत्या के 5 दिन बाद एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार किए गए शख्स की पहचान हरियाणा के महेंद्रगढ़ निवासी रामवीर के रूप में हुई है। वह इस घटना का एक अहम साजिशकर्ता बताया जा रहा है।

जयपुर में रामवीर ने करवाया था शूटर्स के रहने का इंतजाम

इस हत्याकांड के शूटर्स नितिन और रोहित के लिए जयपुर में सारी व्यवस्था रामवीर ने करवाई थी। शूटर नितिन फौजी और रामवीर बचपन के दोस्त हैं और रामवीर जयपुर में रहकर पढ़ाई कर रहा था। रामवीर ने नितिन फौजी की जयपुर के एक होटल में और अपने परिचित के फ्लैट पर रुकवाने की व्यवस्था की थी।

इसके अलावा रामवीर ने ही नागौर डिपो की राजस्थान रोडवेज बस में बैठाकर नितिन और रोहित को फरार करवाया। वह उन्हें मोटरसाइकिल पर बैठाकर अजमेर रोड से बगरू टोल प्लाजा से आगे तक लेकर गया था।

कब हुई थी गोगामेड़ी की हत्या?

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की 5 दिसंबर को 2 शूटर्स नितिन फौजी और रोहित राठौड़ ने श्याम नगर स्थित उनके निवास पर गोली मारकर हत्या कर दी थी। दोनों शूटर्स ने गोगामेड़ी पर अंधाधुंध फायरिंग की थी। 

शूटर्स पर घोषित है इनाम

गोगामेड़ी हत्या मामले में दोनों (राजस्थान)आरोपी फिलहाल पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। इस वारदात को गैंगस्टर रोहित गोदारा से जुड़े हमलावरों ने अंजाम दिया। शूटरों की पहचान रोहित सिंह राठौड़ और नितिन फौजी के रूप में हुई है। रोहित नागौर के मकराना का रहने वाला है, वहीं नितिन हरियाणा के महेंद्रगढ़ का रहने वाला है। फिलहाल दोनों फरार हैं। राजस्थान पुलिस ने इन दोनों आरोपियों पर 5-5 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया है। (सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड)

यह भी पढे

राजस्थान सरकार बदलते ही: गहलोत के विशेष अधिकारी ACB की रडार पर, सुर्खियों में चर्चा!

Leave a comment