मरूप्रदेश: राजस्थान में नए राज्य के गठन की मांग ने मचाई सनसनी, Maru Pradesh New State 2023

राजस्थान में नए राज्य के गठन की मांग ने मचाई सनसनी

 Maru Pradesh | Maru Pradesh New State | new state | rajasthan news | Rajasthan Map | Maru Pradesh demand | New state in india | Parliament special session | 

मरूप्रदेश: राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनाव के आसपास, राजनीतिक पार्टियां जनता को अपने पक्ष में करने के लिए चुनावी सौगात देने में लगी हुई हैं। इस दौरान राजस्थान में मरूप्रदेश (Maru Pradesh) के गठन की चर्चा तेज हो गई है। इस संदर्भ में एक प्रश्न उठा है कि क्या राजस्थान को दो भागों में विभाजित किया जाएगा। क्या यह चुनाव से पहले मोदी जी की रणनीति का एक मास्टरस्ट्रोक होगा।

Rajasthan Maru Pradesh 

राजस्थान में इससे पहले ही प्रदेश में 19 नये जिलों की घोषणा करके मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मास्टर गेम खेल दिया था. प्रयास लगाये जा रहे है कि केंद्र सरकार की ओर से विशेष सत्र बुलाया गया है, जिसमें मरूप्रदेश (Maru Pardesh New State) को लेकर चर्चाएं उठ रही है. कहा जा रहा है कि पीएम मोदी ने भी मरूप्रदेश (Maru Pardesh Demand) की फाइल को ही दिल्ली मंगवाया है. सोशल मीडिया पर भी जनता लगातार इसी के बारे में पोस्ट कर रही है.।

मरुभूमि का राज: राजस्थान के पश्चिमी क्षेत्र के 2 नए राज्य के लिए एक नया संकेत

राजस्थान से अलग होकर बनेगा मरू प्रदेश! शामिल होंगे 20 जिले ? ,राजस्थान के 2 भाग Maru Pradesh और Raj.

Maru Pradesh New State

वहीं अगर यह प्रदेश अस्तित्व में आ जाता है तो यह दुनिया का 9वां गम भूभाग होगा. जिसके साथ ही आपको बता दें कि देश का 14.65% खनिज उत्पादन इसी क्षेत्र से होता है. वहीं देश मे  27 प्रतिशत तेल और गैस की आपूर्ति भी इसी ही क्षेत्र से की जाती है. और जनसंख्या की बात की जाए तो यहाँ  इस क्षेत्र में 2 करोड़ 85 लाख से ज्यादा लोग रहते हैं, जबकि क्षेत्र की साक्षरता दर 63 फ़ीसदी से ज्यादा है. 19 सितंबर को सोशल मीडिया पर भी हमारी मंगरु प्रदेश भी ट्रेड करता रहा.

MaruPradesh New Update

राजस्थान के कुल 20 जिलों को मिलाकर नए मरूप्रदेश बनाने की घोषणा जल्द होगी

लंबे समय से राजस्थान के पश्चिमी राजस्थान के जिलों में अलग प्रदेश मरूप्रदेश की मांग उठ रही है। केंद्र सरकार सूत्रों के मुताबिक संसद के विशेष सत्र में नए राज्य निर्माण की अटकलें तेज हो गई हैं। नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डाभोल के बुलावे पर प्रधानमंत्री कार्यालय में नए राज्य मरूप्रदेश के लिए शेखावाटी नहर, घग्घर नदी के पानी, माही बेसिन के जल, बॉर्डर पर बढ़ते पलायन को लेकर चर्चा भी की जा चुकी है।

गौरतलब है कि इस आंदोलन को लेकर कर रहे मरूप्रदेश के निर्माण मोर्चा के अध्यक्ष जयबीर गोदारा ने बताया कि राज्य को लेकरआम जनता की ओर से 13 साल में उन्होंने अनेकों बड़े आंदोलन किए गए। वर्ष 2009 में बीकानेर से लेकर जयपुर तक ऊँटों की महायात्रा भी की गई थी और इस सम्बंध में राज्यपाल को ज्ञापन भी दिया था। उसके बाद वर्ष 2013 में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को दिल्ली में ज्ञापन दिया था। फिर वर्ष 2014 में नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा गया था। नए प्रदेश की मांग के तहत 23 जनवरी 2023 को श्रीगंगानगर से लेकर जयपुर तक उन्होंने ऊँटो की महायात्रा की गई थी

जिसमें छोटे छोटे जिले और छोटे से संभाग, बिजली, किसान और भर्ती परीक्षाओं के भ्रष्टाचार सहित अनेकों मुद्दे रखे गए थे। जिसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नए जिले व नए संभाग सहित अनेक मांगे भी पूरी भी की।

मरुसेना के अध्यक्ष जयन्त मूंड ने बताया कि राजस्थान राज्य दुनियां के 110 देशों से बड़ा है। यहां की अरावली पर्वतमाला पूर्वी राजस्थान व पश्चिमी राजस्थान को भौगोलिक, सांस्कृतिक, रहन-सहन, पहनावें, जलवायु, भाषा, विकास व आर्थिक आधार पर विभाजित करती है।

केंद्र सरकार के सूत्रों के मुताबिक सोमवार को ही दिल्ली के उच्च अधिकारियों ने मरूप्रदेश मुद्दे से सम्बंधित कागजात मंगवाए थे। जिससे संकेत मिले हैं कि नए संसद के सत्र में नए राज्य का निर्माण की घोषणा की जा सकती है। मरूप्रदेश की मांग करने वाले लोगों का कहना है कि मरूप्रदेश बनता है तो नई संसद का विशेष सत्र स्वर्णिम अक्षरों में भी लिखा जाएगा और विकास के नए आयाम भी खुलेंगे।

Rajasthan  Maru Pradesh Map | मरूप्रदेश में शामिल जिले

यदि राजस्थान को दो भागों में विभाजित किया जाता है, तो पश्चिमी प्रदेश का नाम मरू प्रदेश रखा जा सकता है। इसमें थार के मरूस्थल क्षेत्र में आने वाले जिले शामिल हो सकते हैं। 50 जिलों में से 17 से ज्यादा जिले नए प्रदेश में शामिल हो सकते हैं। नए प्रदेश का हिस्सा निम्नलिखित जिलों में से हो सकता है: जालोर, बाड़मेर, सांचोर, फलौदी, बालोतरा, पश्चिम जोधपुर, पूर्व जोधपुर, बीकानेर, जैसलमेर, अनूपगढ़, श्रीगंगानगर, पाली, नागौर, चूरू, सीकर, नीमकाथाना और कुचामना।

राजस्थान: 2 अलग राज्यों में बटेगा बंटवारा, CM गहलोत ने किया बड़ा ऐलान!

Rajasthan Police Constable Physical 2023 Cancel | Rajasthan Police New Vacancy 2023